Drishti CUET में आपका स्वागत है - Drishti IAS द्वारा संचालित   |   Result CUET (UG) - 2023   |   CUET (UG) Exam Date 2024   |   Extension of Registration Date for CUET (UG) - 2024




करेंट अफेयर्स

Home / करेंट अफेयर्स

विविध

22 फरवरी, 2024

    «    »
 22-Feb-2024

    No Tags Found!

अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस 2024

  • अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस प्रतिवर्ष 21 फरवरी को मनाया जाता है।
  • इस दिन का उद्देश्य विश्व की सांस्कृतिक और भाषाई विरासत एवं विविधता की रक्षा करना तथा उसका जश्न मनाना है। इसके साथ ही पारंपरिक संस्कृतियों और भाषाओं के संरक्षण के बारे में जागरूकता उत्पन्न करना है।
  • अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस 2024 की थीम है “बहुभाषी शिक्षा अंतर-पीढ़ीगत शिक्षा का एक स्तंभ है”।

खजुराहो नृत्य महोत्सव 2024

  • मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने मध्य प्रदेश के छतरपुर ज़िले में 50वें खजुराहो नृत्य महोत्सव का उद्घाटन किया।
  • यह महोत्सव मध्य प्रदेश पर्यटन विभाग और भारतीय पुरातत्त्व सर्वेक्षण के सहयोग से भोपाल में उस्ताद अलाउद्दीन संगीत तथा कला अकादमी के माध्यम से संस्कृति विभाग द्वारा आयोजित एक वार्षिक कार्यक्रम है।

शशि थरूर को फ्राँस के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार से सम्मानित किया गया

  • शशि थरूर को फ्राँस के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार शेवेलियर डे ला लीजियन डी'ऑनूर (नाइट ऑफ द लीजन ऑफ ऑनर) से सम्मानित किया गया है।
  • फ्राँसीसी सीनेट के अध्यक्ष जेरार्ड लार्चर ने भारत और फ्राँस के बीच संबंधों को मज़बूत करने के प्रयासों, वैश्विक शांति के प्रति उनके समर्पण तथा फ्राँस के साथ उनकी दोस्ती के लिये यह पुरस्कार प्रदान किया।

दंड पट्टा महाराष्ट्र का राजकीय हथियार बन गया

  • मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने दंड पट्टा या गौंटलेट तलवार को महाराष्ट्र का राजकीय हथियार घोषित किया।
  • इसमें चार फीट तक की दोधारी तलवार शामिल है, जिसमें हाथ की सुरक्षा के लिये एक गौंटलेट भी शामिल है।
  • मध्यकाल के दौरान इसका व्यापक रूप से उपयोग किया गया था और कई चित्रों में शिवाजी को हथियार के साथ चित्रित किया गया है।

धर्मेंद्र प्रधान ने देश के पहले कौशल भारत केंद्र का उद्घाटन किया

  • केंद्रीय शिक्षा और कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने ओडिशा के संबलपुर में देश के पहले कौशल भारत केंद्र (SIC) का उद्घाटन किया।
  • इस केंद्र का लक्ष्य गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और कौशल प्रशिक्षण प्रदान करना, युवाओं को सशक्त बनाना तथा 21वीं सदी के लिये एक सक्षम कार्यबल तैयार करना है।