Drishti CUET में आपका स्वागत है - Drishti IAS द्वारा संचालित   |   Result CUET (UG) - 2023   |   CUET (UG) Exam Date 2024   |   Extension of Registration Date for CUET (UG) - 2024   |   Schedule/Date-sheet for Common University Entrance Test [CUET (UG)] – 2024   |   Rescheduling the Test Papers of CUET (UG) - 2024 for the candidates appearing in Centres across Delhi on 15 May 2024




करेंट अफेयर्स

Home / करेंट अफेयर्स

विविध

22 सितंबर, 2023

    «    »
 22-Sep-2023

    No Tags Found!

लोकसभा ने महिला आरक्षण विधेयक पारित किया

  •  20 सितंबर 2023 को महिला आरक्षण विधेयक लोकसभा द्वारा पारित कर दिया गया, जिसमें 454 सदस्यों ने इसके पक्ष में तथा दो सदस्यों ने इसके विरोध में मतदान किया।
  • यह विधेयक लोकसभा और राज्य विधानसभाओं में महिलाओं के लिये एक तिहाई सीटें आरक्षित करेगा।
  • विधेयक (नारी शक्ति वंदन अधिनियम)  सरकार द्वारा 19 सितंबर 2023 को पेश किया गया था, जिससे यह नए संसद भवन में पेश किया जाने वाला पहला विधेयक बन गया।
  • विधेयक के अनुसार, परिसीमन प्रक्रिया शुरू होने के बाद आरक्षण लागू होगा, जो 15 वर्षों तक जारी रहेगा।

अंतर्राष्ट्रीय शांति दिवस 2023

  • प्रत्येक वर्ष 21 सितंबर को विश्व भर में अंतर्राष्ट्रीय शांति दिवस मनाया जाता है।
  • संयुक्त राष्ट्र (UN) द्वारा स्थापित यह दिन, शांति, अहिंसा और संघर्ष समाधान के लिये हमारी प्रतिबद्धता की याद दिलाता है।
  • अंतर्राष्ट्रीय शांति दिवस 2023 का विषय "शांति के लिये कार्य: ‘’वैश्विक लक्ष्यों के लिये हमारी महत्त्वकांक्षा" है।

सिम्बेक्स- 2023

  • भारतीय नौसेना के जहाज़ रणविजय, कवरत्ती और पनडुब्बी INS  सिंधुकेसरी सिंगापुर-भारत समुद्री द्विपक्षीय अभ्यास (SIMBEX) के 30वें संस्करण में शामिल होने के लिये सिंगापुर पहुँचे हैं। 
  • यह भारतीय नौसेना और सिंगापुर गणराज्य नौसेना (RSN) के बीच एक वार्षिक द्विपक्षीय नौसेना अभ्यास है। 
  • यह अभ्यास वर्ष 1994 से आयोजित किया जा रहा है। सिम्बेक्स को भारतीय नौसेना द्वारा किसी अन्य देश के साथ किया गया सबसे लंबा निरंतर नौसैनिक अभ्यास होने का भी गौरव प्राप्त है।
  • सिम्बेक्स-2023 दो चरणों में आयोजित किया जा रहा है - 21 से 24 सितंबर 2023 तक सिंगापुर में हार्बर चरण होगा, उसके बाद समुद्री चरण होगा। रणविजय, कवरत्ती और सिंधुकेसरी के अलावा, लंबी दूरी का समुद्री गश्ती विमान P-8I भी अभ्यास में भाग ले रहा है।

चिकित्सा उपकरण क्षेत्र के लिये शिक्षा योजना को मंज़ूरी

  • सरकार ने एक प्रतिभा पूल विकसित करने के लिये ₹480 करोड़ की योजना को मंज़ूरी दी है जो चिकित्सा उपकरण उद्योग को आगे बढ़ाएगी।
  • यह तीन-वर्षीय योजना सरकारी संस्थानों को चिकित्सा उपकरणों पर कई पाठ्यक्रम चलाने के लिये वित्तीय सहायता प्रदान करेगी तथा ऐसे संस्थानों को वैश्विक मानकों के अनुरूप उन्नत करेगी।
  • यह कार्रवाई हाल ही में राष्ट्रीय चिकित्सा उपकरण नीति, 2023 के अनावरण के मद्देनजर की गई है, जिससे वर्ष 2030 तक चिकित्सा उपकरण उद्योग के मौजूदा $11 बिलियन से $50 बिलियन तक विस्तार की सुविधा मिलने की उम्मीद है।

BCCI  ने SBI Life को आधिकारिक भागीदार घोषित किया

  • 20 सितंबर, 2023 को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने BCCI घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय सीज़न 2023-26 के लिये SBI LIFE  को अपने आधिकारिक भागीदार के रूप में घोषित किया।
  • यह साझेदारी तीन साल तक चलेगी और 22 सितंबर, 2023 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शुरू होने वाली तीन मैचों की एकदिवसीय शृंखला के साथ शुरू होगी।

एशियाई खेल 2023 के ध्वजवाहक

  • भारतीय हॉकी कप्तान हरमनप्रीत सिंह और ओलंपिक पदक विजेता मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन 23 सितंबर 2023 को हांगझोउ में एशियाई खेलों के उद्घाटन समारोह के दौरान भारतीय दल के ध्वजवाहक होंगे।

राष्ट्रीय विज्ञान पुरस्कार (RVP)

  • सरकार ने विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार के क्षेत्र में राष्ट्रीय पुरस्कारों का एक नया सेट स्थापित किया है जिसे 'राष्ट्रीय विज्ञान पुरस्कार' के नाम से जाना जाता है।
  • यह पुरस्कार चार श्रेणियों में है, जिसमें विज्ञान रत्न, विज्ञान श्री, विज्ञान युवा-शांति स्वरूप भटनागर और विज्ञान टीम शामिल हैं।
  • यह पुरस्कार भारत में इस क्षेत्र में सर्वोच्च सम्मानों में से एक होगा और इसका दर्जा अन्य राष्ट्रीय पुरस्कारों के बराबर होगा।
  • राष्ट्रीय विज्ञान पुरस्कार 13 डोमेन में दिए जाएंगे, अर्थात् भौतिकी, रसायन विज्ञान, जैविक विज्ञान, गणित और कंप्यूटर विज्ञान, पृथ्वी विज्ञान, चिकित्सा, इंजीनियरिंग विज्ञान, कृषि विज्ञान, पर्यावरण विज्ञान, प्रौद्योगिकी एवं नवाचार, परमाणु ऊर्जा, अंतरिक्ष विज्ञान तथा प्रौद्योगिकी व अन्य।
  •  यह पुरस्कार विज्ञान, प्रौद्योगिकी और प्रौद्योगिकी आधारित नवाचार के विभिन्न क्षेत्रों में वैज्ञानिकों, प्रौद्योगिकीविदों एवं नवप्रवर्तकों द्वारा किए गए उल्लेखनीय और प्रेरक योगदान को मान्यता देने के लिये है।